Up Block Pramukh Chunav 2021 Election: Result Of Mathura Blocks Bjp Won Two Seats – यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव: मथुरा में रोमांचक मुकाबला, दो मतों से नौहझील सीट पर मिली जीत

सार

गोवर्धन, राया और मथुरा ब्लॉक में भाजपा को हार का करना पड़ा सामना 

यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव: मथुरा में प्रेमलता जीत के बाद
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

मथुरा जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में दमखम से जीत दर्ज करने वाली भाजपा ब्लॉक प्रमुख चुनाव में बुरी तरह हार गई। केवल नौहझील ब्लॉक प्रमुख की उम्मीदवार सुमन चौधरी ने जरूर भाजपा की लाज बचाते हुए दोबारा ब्लॉक प्रमुख बन गईं। 10 ब्लॉक प्रमुख में से चार सीट ही भाजपा की झोली में गईं। 

10 ब्लॉक प्रमुख में से शुक्रवार को ही छह निर्विरोध चुन लिए गए थे। इनमें फरह, नंदगांव और छाता में भाजपा के उम्मीदवार ब्लॉक प्रमुख बने। हालांकि भाजपा ने सात ब्लॉकों पर ही उम्मीदवार खड़े किए थे, पर तीन पर अंदरखाने समर्थन दे रखा था। मांट ब्लॉक से उम्मीदवार श्रीदेवी ने नामांकन वापस लेकर भाजपा की किरकिरी करा दी। यहां से बसपा ने निर्विरोध जीत दर्ज कर ली। 

शनिवार को राया, गोवर्धन, मथुरा और नौहझील ब्लॉक पर मतदान हुआ। मथुरा में भाजपा उम्मीदवार मुन्नी देवी दिवाकर, गोवर्धन में भूपेंद्र चौधरी और राया में सावित्री देवी को हार का मुंह देखना पड़ा। इन ब्लॉकों में निर्दलियों ने बाजी मार ली। केवल नौहझील ब्लॉक प्रमुख पर भाजपा उम्मीदवार सुमन चौधरी ने जरूर दोबारा जीतकर भाजपा की लाज बचा दी। जिलाध्यक्ष मधु शर्मा व महानगर अध्यक्ष विनोद अग्रवाल के सारे दावे फेल हो गए। 

यह ब्लॉक जहां जीती भाजपा
– नौहझील ब्लॉक सुमन चौधरी, नंदगांव ब्लॉक सुंदरी देवी, फरह ब्लॉक नीति सिंह, छाता ब्लॉक कविता।
 
अन्य जीते ब्लॉक प्रमुख 
– चौमुहां ब्लॉक जमुना देवी शर्मा (निर्दलीय) निर्विरोध, मांट ब्लॉक मंजू देवी (बसपा) निर्विरोध, मथुरा ब्लॉक प्रेमलता (निर्दलीय), गोवर्धन विपिन कुमार निर्दलीय, बलदेव रालोद अनिल भरंगर और राया ब्लॉक प्रमुख चंचल निर्दलीय जीतीं।

भाजपा में आकर दी पटकनी
ब्लॉक प्रमुख के मतदान से एक सप्ताह पहले भाजपा जिलाध्यक्ष मधु शर्मा ने राया की बीडीसी सदस्य चंचल को भाजपा ज्वाइन कराई थी। वादा किया था कि ब्लॉक प्रमुख बनाएंगे। लेकिन पार्टी ने वादाखिलाफी करके सावित्री पर दांव खेला। नाराज चंचल ने एक वोट से जीत दर्ज संगठन की पूरी तैयारी पर पानी फेर दिया। यही कुछ हाल मथुरा ब्लॉक प्रमुख के उम्मीदवार मुन्नी देवी को जिताने के लिए जुटे ब्रजक्षेत्र महामंत्री नगेंद्र सिकरवार, महानगर अध्यक्ष ने पूरी ताकत झोंक दी थी। यहां भी निर्दलीय प्रेमलता ने भाजपा को पटकनी देकर मथुरा ब्लॉक प्रमुख पर कब्जा कर लिया।

आपसी खींचतान व गुटबाजी से हारी पार्टी
जिले में चार विधायक, दो मंत्री व खुद का सांसद होने के बाद भी करारी हार का कारण भाजपा की आपसी खींचतान और गुटबाजी माना जा रहा है। इससे प्रदेश नेतृत्व यहां के संगठन से खफा हो गया है। पूरे प्रदेश में भाजपा ने जीत का परचम लहराया लेकिन मथुरा में सारी तैयारी धरी की धरी रह गई।

यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव: जानिए आगरा मंडल में ब्लॉक प्रमुख पद पर कौन रहा ‘भारी’, देखिए चुनाव के नतीजे
 

विस्तार

मथुरा जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में दमखम से जीत दर्ज करने वाली भाजपा ब्लॉक प्रमुख चुनाव में बुरी तरह हार गई। केवल नौहझील ब्लॉक प्रमुख की उम्मीदवार सुमन चौधरी ने जरूर भाजपा की लाज बचाते हुए दोबारा ब्लॉक प्रमुख बन गईं। 10 ब्लॉक प्रमुख में से चार सीट ही भाजपा की झोली में गईं। 

10 ब्लॉक प्रमुख में से शुक्रवार को ही छह निर्विरोध चुन लिए गए थे। इनमें फरह, नंदगांव और छाता में भाजपा के उम्मीदवार ब्लॉक प्रमुख बने। हालांकि भाजपा ने सात ब्लॉकों पर ही उम्मीदवार खड़े किए थे, पर तीन पर अंदरखाने समर्थन दे रखा था। मांट ब्लॉक से उम्मीदवार श्रीदेवी ने नामांकन वापस लेकर भाजपा की किरकिरी करा दी। यहां से बसपा ने निर्विरोध जीत दर्ज कर ली। 

शनिवार को राया, गोवर्धन, मथुरा और नौहझील ब्लॉक पर मतदान हुआ। मथुरा में भाजपा उम्मीदवार मुन्नी देवी दिवाकर, गोवर्धन में भूपेंद्र चौधरी और राया में सावित्री देवी को हार का मुंह देखना पड़ा। इन ब्लॉकों में निर्दलियों ने बाजी मार ली। केवल नौहझील ब्लॉक प्रमुख पर भाजपा उम्मीदवार सुमन चौधरी ने जरूर दोबारा जीतकर भाजपा की लाज बचा दी। जिलाध्यक्ष मधु शर्मा व महानगर अध्यक्ष विनोद अग्रवाल के सारे दावे फेल हो गए। 

यह ब्लॉक जहां जीती भाजपा

– नौहझील ब्लॉक सुमन चौधरी, नंदगांव ब्लॉक सुंदरी देवी, फरह ब्लॉक नीति सिंह, छाता ब्लॉक कविता।

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.