Selected Candidates For The Post Of Spokesperson Will Get Appointment Soon – प्रवक्ता पद के चयनित अभ्यर्थियों को जल्द मिलेगी नियुक्ति

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

प्रदेश के राजकीय महाविद्यालयों में प्रवक्ता भर्ती के तहत काउंसलिंग से वंचित रह गए अभ्यर्थियों को इसी माह कॉलेज आवंटित कर दिए जाएंगे। ऑनलाइन माध्यम से प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया शुरू हो जाने के कारण जिन नौ विषयों के अभ्यर्थियों की काउंसलिंग बीच में रोक दी गई थी, उनकी काउंसलिंग जुलाई के तीसरे सप्ताह में पूरी करा लेने की तैयारी चल रही है। तबादले की प्रक्रिया पूरी होते ही उच्च शिक्षा निदेशालय कॉलेज आवंटन शुरू कर देगा।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से राजकीय महाविद्यालयों में विभिन्न विषयों में चयनित अभ्यर्थियों की ऑनलाइन काउंसलिंग नौ जून से शुरू कराई गई थी। इस दौरान 14 विषयों में चयनित 211 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित कर दिए गए, लेकिन अचानक बीच में ही काउंसलिंग की प्रक्रिया रोक दी गई। नौ विषयों अंग्रेजी, अर्थ शास्त्र, हिंदी, रसायन विज्ञान, बीएड, भौतकी, वाणिज्य आदि में चयनित 350 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित नहीं किए गए। चयनित अभ्यर्थियों ने जब उच्च शिक्षा निदेशक से बात की तो उन्होंने बताया कि शासन के आदेश पर राजकीय महाविद्यालयों में ऑनलाइन मोड में प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। तबादले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद शेष अभ्यर्थियों की काउंसलिंग कराके उन्हें कॉलेज आवंटित कर दिए जाएंगे।

महाविद्यालयों में प्रवक्ता के पदों पर चयनित अभ्यर्थी अब काउंसलिंग शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं। उनकी मांग है कि जब 211 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित कर दिए गए तो बाकी अभ्यर्थियों की भी काउंसलिंग शीघ्र पूरी कराके उन्हें भी कॉलेज आवंटित किए जाएं। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमित भारद्वाज का कहना है कि ऑनलाइन माध्यम से प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया छह जुलाई की शाम तक पूरी हो जाएगी। इसके बाद प्रवक्ता पद पर नए चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग शुरू करा दी जाएगी। चयनित अभ्यर्थियों को जुलाई के तीसरे सप्ताह में कॉलेज आवंटित कर नियुक्ति पत्र जारी कर दिए जाएंगे।

विस्तार

प्रदेश के राजकीय महाविद्यालयों में प्रवक्ता भर्ती के तहत काउंसलिंग से वंचित रह गए अभ्यर्थियों को इसी माह कॉलेज आवंटित कर दिए जाएंगे। ऑनलाइन माध्यम से प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया शुरू हो जाने के कारण जिन नौ विषयों के अभ्यर्थियों की काउंसलिंग बीच में रोक दी गई थी, उनकी काउंसलिंग जुलाई के तीसरे सप्ताह में पूरी करा लेने की तैयारी चल रही है। तबादले की प्रक्रिया पूरी होते ही उच्च शिक्षा निदेशालय कॉलेज आवंटन शुरू कर देगा।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से राजकीय महाविद्यालयों में विभिन्न विषयों में चयनित अभ्यर्थियों की ऑनलाइन काउंसलिंग नौ जून से शुरू कराई गई थी। इस दौरान 14 विषयों में चयनित 211 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित कर दिए गए, लेकिन अचानक बीच में ही काउंसलिंग की प्रक्रिया रोक दी गई। नौ विषयों अंग्रेजी, अर्थ शास्त्र, हिंदी, रसायन विज्ञान, बीएड, भौतकी, वाणिज्य आदि में चयनित 350 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित नहीं किए गए। चयनित अभ्यर्थियों ने जब उच्च शिक्षा निदेशक से बात की तो उन्होंने बताया कि शासन के आदेश पर राजकीय महाविद्यालयों में ऑनलाइन मोड में प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। तबादले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद शेष अभ्यर्थियों की काउंसलिंग कराके उन्हें कॉलेज आवंटित कर दिए जाएंगे।

महाविद्यालयों में प्रवक्ता के पदों पर चयनित अभ्यर्थी अब काउंसलिंग शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं। उनकी मांग है कि जब 211 अभ्यर्थियों को कॉलेज आवंटित कर दिए गए तो बाकी अभ्यर्थियों की भी काउंसलिंग शीघ्र पूरी कराके उन्हें भी कॉलेज आवंटित किए जाएं। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमित भारद्वाज का कहना है कि ऑनलाइन माध्यम से प्रवक्ताओं के तबादले की प्रक्रिया छह जुलाई की शाम तक पूरी हो जाएगी। इसके बाद प्रवक्ता पद पर नए चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग शुरू करा दी जाएगी। चयनित अभ्यर्थियों को जुलाई के तीसरे सप्ताह में कॉलेज आवंटित कर नियुक्ति पत्र जारी कर दिए जाएंगे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.