SAMASTIPUR- एसएफआई ने “कृषि बचाओ जनतंत्र बचाओ”अंदोलन के तहत किया होम प्रोटेस्ट|BT NEWS BIHAR

भारत का छात्र फेडरेशन एसएफआई के कार्यकर्ताओं द्वारा केंद्रीय कमेटी के आह्वान पर “कृषि बचाओ जनतंत्र बचाओ” आंदोलन के तहत अपने अपने घरों से हैंड बोर्ड पर “बच्चा बच्चा झोंक देंगे जमीन का कब्जा रोक देंगे,तीनों काला कानून चूर-चूर जमीन का कब्जा नहीं मंजूर आदि मांग लिख कर सरकार से तीनों काले कृषि कानून वापस लेने की मांग की।
वहीं एसएफआई जिलाध्यक्ष अवनीश कुमार ने कहा कि आज तीनों काले कृषि कानून के खिलाफ़ किसान आंदोलन का लगभग सात महीने हो गए हैं।देश में क़ायम केंद्र की एनडीए सरकार भी वही कर रही है;जो पूर्व में यूपीए सरकार इमरजेंसी में की थी।मोदी सरकार ने यह कारनामा कर खेती एवं लोकतंत्र दोनों के लिए ही खतरा पैदा कर दिया है।आज देश में एक अघोषित आपातकालीन शासन बरकरार है।जिसके निशाने पर किसान,मजदूर,अन्य मेहनतकशों के साथ प्रगतिशिल एवं जनवाद पसंद व्यक्ति एवं बुद्धिजीवियों के भिन्न तबके है,संवैधानिक मूल्यों की अनदेखी एवं अवहेलना की जा रही है।ऐसी हालत में किसानों,मजदूरों एवं अन्य मेहनतकशों के साथ प्रगतिशील एवं जनवादी ताकतें चुप नहीं बैठ सकती है।इसलिए खेती एवं लोकतंत्र को बचाने के लिए जरूरी पड़े तो हम कुर्बानी भी देने के लिए तैयार हैं।
BT न्यूज़ बिहार के लिए समस्तीपुर से सौरभ चौधरी की रिपोर्ट

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.