Pocso Act Imposed On Former Minister And New District Panchayat President And Others Action Against Abusing In Ballia – बलिया: पूर्व मंत्री और नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष समेत 10 पर लगा पाक्सो एक्ट, गाली का वीडियो वायरल होने पर कार्रवाई

अमर उजाला नेटवर्क, बलिया
Published by: हरि User
Updated Tue, 06 Jul 2021 11:43 PM IST

सार

राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी और उनके घर की महिलाओं को अपशब्द कहने और नाबालिग पर टिप्पणी के मामले में पुलिस ने सख्त कार्रवाई की है। विगत दिनों गाली देने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। 

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

बलिया में राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी और उनके घर की महिलाओं को अपशब्द कहने के मामले में पुलिस ने और कड़ा रुख अपनाया है। मंगलवार को शिकायतकर्ता के बयान के आधार पर पुलिस ने नाबालिग पर टिप्पणी करने के आरोप में नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष आनंद चौधरी और उनके पिता एवं पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी समेत 10 आरोपियों पर पाक्सो एक्ट समेत अन्य धाराएं बढ़ा दी हैं। इससे आरोपियों की मुश्किलें बढ़ती जा रहीं हैं। 

उधर, फरार चल रहे आरोपियों की तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। प्रकरण में कुल 10 आरोपित बनाए गए हैं। इनमें से जिला पंचायत अध्यक्ष और पूर्व मंत्री की गिरफ्तारी होनी बाकी है। मंगलवार को राजमंगल यादव, दिनेश यादव और अमित कुमार ने सीजेएम कोर्ट में समर्पण कर दिया। बाद में कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी। 

बता दें कि जिला पंचायत चुनाव के दिन जीत के बाद सपा समर्थकों ने खेल मंत्री और उनके घर की महिलाओं, बेटियों के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया था। इस मामले में अश्वनी तिवारी की तहरीर पर जिला पंचायत अध्यक्ष, पूर्व मंत्री समेत 10 लोगों को नामजद किया गया था। इसके अलावा सैकड़ों अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया था। इस प्रकरण में पुलिस ने विवेचना के दौरान मंगलवार को कुछ धाराएं और पाक्सो एक्ट और बढ़ा दिया। इस बाबत शहर कोतवाल बाल मुकुंद मिश्रा ने बताया कि वादी के बयान और तहरीर में नाबालिग पर अपशब्द कहने पर धाराएं बढ़ाई गईं हैं।

विस्तार

बलिया में राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी और उनके घर की महिलाओं को अपशब्द कहने के मामले में पुलिस ने और कड़ा रुख अपनाया है। मंगलवार को शिकायतकर्ता के बयान के आधार पर पुलिस ने नाबालिग पर टिप्पणी करने के आरोप में नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष आनंद चौधरी और उनके पिता एवं पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी समेत 10 आरोपियों पर पाक्सो एक्ट समेत अन्य धाराएं बढ़ा दी हैं। इससे आरोपियों की मुश्किलें बढ़ती जा रहीं हैं। 

उधर, फरार चल रहे आरोपियों की तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। प्रकरण में कुल 10 आरोपित बनाए गए हैं। इनमें से जिला पंचायत अध्यक्ष और पूर्व मंत्री की गिरफ्तारी होनी बाकी है। मंगलवार को राजमंगल यादव, दिनेश यादव और अमित कुमार ने सीजेएम कोर्ट में समर्पण कर दिया। बाद में कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी। 

बता दें कि जिला पंचायत चुनाव के दिन जीत के बाद सपा समर्थकों ने खेल मंत्री और उनके घर की महिलाओं, बेटियों के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया था। इस मामले में अश्वनी तिवारी की तहरीर पर जिला पंचायत अध्यक्ष, पूर्व मंत्री समेत 10 लोगों को नामजद किया गया था। इसके अलावा सैकड़ों अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया था। इस प्रकरण में पुलिस ने विवेचना के दौरान मंगलवार को कुछ धाराएं और पाक्सो एक्ट और बढ़ा दिया। इस बाबत शहर कोतवाल बाल मुकुंद मिश्रा ने बताया कि वादी के बयान और तहरीर में नाबालिग पर अपशब्द कहने पर धाराएं बढ़ाई गईं हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.