Bjp Leader Bid Farewell To Daughter By Helicopter – भाजपा नेता ने हेलीकॉप्टर से की बेटी की विदाई

हेलीकॉप्टर में पति प्रदीप के साथ सुनीता।
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, बरेली

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

बरेली के आलमपुर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख के बेटे प्रदीप संग हुई सुनीता की शादी
गौने की विदाई से एक दिन पहले हुआ शादी समारोह जैसा कार्यक्रम

उझानी (बदायूं)। भाजपा नेता वेदराम लोधी की बेटी सुनीता के विवाह के बाद गौने की रस्म धूमधाम से की गई। विदाई के लिए पूर्वाह्न में एमजीपी कॉलेज के मैदान पर हेलीकॉप्टर उतरा और 15 मिनट बाद ही उसमें सवार होकर सुनीता और उनके पति प्रदीप बरेली के आलमपुर जाफराबाद को उड़ गए। हेलीकॉफ्टर से विदाई देखने के लिए सैकड़ों लोगों के साथ दोनों पक्ष के रिश्तेदार भी हेलीपेड स्थल पर डटे रहे।
नगर निवासी भाजपा नेता वेदराम लोधी की बेटी सुनीता का ब्याह 25 दिसंबर को हुआ था। उस दौरान शादी समारोह सादगी से किया गया था। बकौल वेदराम, बेटी सुनीता की इच्छा हेलीकॉप्टर से विदा होकर ससुराल जाने की थी। इसलिए उसे पूरा करने के लिए शनिवार को शादी जैसे अंदाज में कार्यक्रम आयोजित किया गया। सुनीता को विदा कराने के लिए बरेली के आलमपुर जाफराबाद से पति प्रदीप कुमार और ससुर पूर्व ब्लॉक प्रमुख श्रीपाल सिंह और उनके रिश्तेदार शनिवार शाम को ही यहां पहुंच गए। कार्यक्रम में कई राजनीतिक भी जुटे। रविवार पूर्वाह्न एमजीपी कॉलेज के मैदान पर सुनीता और प्रदीप को लेने के लिए हेलीकॉप्टर उतरा और विदाई की औपचारिकताएं पूरी होते ही हेलीकॉप्टर आलमपुर को उड़ गया। सुनीता की मां राजवती नगर पालिका परिषद की सदस्य हैं। वहीं शादी के बाद ही सुनीता आलमपुर से प्रधान निर्वाचित हो गई हैं।

पहली बार वीरेंद्र गुप्ता की बेटी की हुई थी हेलीकॉप्टर से विदाई

उझानी। एमजीपी कॉलेज के मैदान पर हेलीकॉप्टर तो कई बार लैंड हुआ है। राजनीतिक कार्यक्रमों और रिश्तेदारी में भी यहां नेता और व्यापारी हेलीकॉप्टर से पहुंचे हैं। लेकिन वर्ष-2006 में 11 दिसंबर को नझियाई मोहल्ला निवासी सपा व्यापार सभा के तत्कालीन अध्यक्ष चौधरी वीरेंद्र कुमार गुप्ता ने बेटी सविता की विदाई हेलीकॉप्टर से की। सविता के भाई कमल गुप्ता कहते हैं कि उस दौरान पूरे प्रदेश में दुल्हन की विदाई हेलीकॉप्टर बहुत कम ही होती थी। इसके अलावा उद्योगपति दिवंगत हरीभगवान अग्रवाल के दामाद शादी के बाद अपने निजी हेलीकॉप्टर से इसी कॉलेज के मैदान पर उतर चुके हैं।

बरेली के आलमपुर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख के बेटे प्रदीप संग हुई सुनीता की शादी

गौने की विदाई से एक दिन पहले हुआ शादी समारोह जैसा कार्यक्रम

उझानी (बदायूं)। भाजपा नेता वेदराम लोधी की बेटी सुनीता के विवाह के बाद गौने की रस्म धूमधाम से की गई। विदाई के लिए पूर्वाह्न में एमजीपी कॉलेज के मैदान पर हेलीकॉप्टर उतरा और 15 मिनट बाद ही उसमें सवार होकर सुनीता और उनके पति प्रदीप बरेली के आलमपुर जाफराबाद को उड़ गए। हेलीकॉफ्टर से विदाई देखने के लिए सैकड़ों लोगों के साथ दोनों पक्ष के रिश्तेदार भी हेलीपेड स्थल पर डटे रहे।

नगर निवासी भाजपा नेता वेदराम लोधी की बेटी सुनीता का ब्याह 25 दिसंबर को हुआ था। उस दौरान शादी समारोह सादगी से किया गया था। बकौल वेदराम, बेटी सुनीता की इच्छा हेलीकॉप्टर से विदा होकर ससुराल जाने की थी। इसलिए उसे पूरा करने के लिए शनिवार को शादी जैसे अंदाज में कार्यक्रम आयोजित किया गया। सुनीता को विदा कराने के लिए बरेली के आलमपुर जाफराबाद से पति प्रदीप कुमार और ससुर पूर्व ब्लॉक प्रमुख श्रीपाल सिंह और उनके रिश्तेदार शनिवार शाम को ही यहां पहुंच गए। कार्यक्रम में कई राजनीतिक भी जुटे। रविवार पूर्वाह्न एमजीपी कॉलेज के मैदान पर सुनीता और प्रदीप को लेने के लिए हेलीकॉप्टर उतरा और विदाई की औपचारिकताएं पूरी होते ही हेलीकॉप्टर आलमपुर को उड़ गया। सुनीता की मां राजवती नगर पालिका परिषद की सदस्य हैं। वहीं शादी के बाद ही सुनीता आलमपुर से प्रधान निर्वाचित हो गई हैं।

पहली बार वीरेंद्र गुप्ता की बेटी की हुई थी हेलीकॉप्टर से विदाई

उझानी। एमजीपी कॉलेज के मैदान पर हेलीकॉप्टर तो कई बार लैंड हुआ है। राजनीतिक कार्यक्रमों और रिश्तेदारी में भी यहां नेता और व्यापारी हेलीकॉप्टर से पहुंचे हैं। लेकिन वर्ष-2006 में 11 दिसंबर को नझियाई मोहल्ला निवासी सपा व्यापार सभा के तत्कालीन अध्यक्ष चौधरी वीरेंद्र कुमार गुप्ता ने बेटी सविता की विदाई हेलीकॉप्टर से की। सविता के भाई कमल गुप्ता कहते हैं कि उस दौरान पूरे प्रदेश में दुल्हन की विदाई हेलीकॉप्टर बहुत कम ही होती थी। इसके अलावा उद्योगपति दिवंगत हरीभगवान अग्रवाल के दामाद शादी के बाद अपने निजी हेलीकॉप्टर से इसी कॉलेज के मैदान पर उतर चुके हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.