Action Report Summoned On The Accused Of Rape And Harassment Of The Girl – दुष्कर्म व युवती के उत्पीड़न के आरोपी दरोगा पर कार्रवाई की रिपोर्ट तलब

{“_id”:”60e46bf55bf21b454526e546″,”slug”:”action-report-summoned-on-the-accused-of-rape-and-harassment-of-the-girl”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”u0926u0941u0937u094du0915u0930u094du092e u0935 u092fu0941u0935u0924u0940 u0915u0947 u0909u0924u094du092au0940u0921u093cu0928 u0915u0947 u0906u0930u094bu092au0940 u0926u0930u094bu0917u093e u092au0930 u0915u093eu0930u094du0930u0935u093eu0908 u0915u0940 u0930u093fu092au094bu0930u094du091f u0924u0932u092c”,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”u0936u0939u0930 u0914u0930 u0930u093eu091cu094du092f”,”slug”:”city-and-states”}}

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Published by: विनोद सिंह
Updated Tue, 06 Jul 2021 08:13 PM IST

सार

  • हाईकोर्ट ने डीजीपी से मांगी रिपोर्ट 

हाईकोर्ट, अदालत, न्यायालय
– फोटो : file photo

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पुलिस उत्पीड़न व दुष्कर्म से पीड़ित महिला को आपराधिक केस में फंसाने के मामले में डीजीपी को आठ जुलाई को व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने डीजीपी से कहा है कि व्यक्तिगत हलफनामे में महिला से दुष्कर्म कर आपराधिक केस में फंसाने वाले पुलिस दरोगा के खिलाफ की गई कार्रवाई की रिपोर्ट एवं पीड़िता का कोर्ट में दर्ज बयान भी दाखिल करें। याचिका की सुनवाई 8 जुलाई को होगी।

यह आदेश न्यायमूर्ति एस पी केसरवानी तथा न्यायमूर्ति गौतम चौधरी की खंडपीठ ने पीड़ित युवती व अन्य की याचिका पर दिया है। याचिका पुलिस द्वारा उत्पीड़न को लेकर दाखिल की गई है। कोर्ट ने याची के पुलिस उत्पीड़न पर रोक लगा दी है।

याची का कहना है कि पुलिस दरोगा सुनील कुमार ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। इस मामले में शाहजहांपुर के महिला थाने में 14 जनवरी 21 को एफआईआर दर्ज है। एक एफआईआर थाना दातागंज बदायूं में व एक एफआईआर जलालाबाद शाहजहांपुर में दर्ज है। दरोगा ने पेशबंदी में एफआईआर दर्ज कराई है। पीड़िता ने मुख्यमंत्री सहित सभी पुलिस अधिकारियों से शिकायत की किंतु कोई सुनवाई नहीं हुई। दरोगा उसे परेशान कर रहा है। पुलिस के खिलाफ शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर कोर्ट ने डीजीपी से जवाब मांगा है। संवाद

विस्तार

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पुलिस उत्पीड़न व दुष्कर्म से पीड़ित महिला को आपराधिक केस में फंसाने के मामले में डीजीपी को आठ जुलाई को व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने डीजीपी से कहा है कि व्यक्तिगत हलफनामे में महिला से दुष्कर्म कर आपराधिक केस में फंसाने वाले पुलिस दरोगा के खिलाफ की गई कार्रवाई की रिपोर्ट एवं पीड़िता का कोर्ट में दर्ज बयान भी दाखिल करें। याचिका की सुनवाई 8 जुलाई को होगी।


यह आदेश न्यायमूर्ति एस पी केसरवानी तथा न्यायमूर्ति गौतम चौधरी की खंडपीठ ने पीड़ित युवती व अन्य की याचिका पर दिया है। याचिका पुलिस द्वारा उत्पीड़न को लेकर दाखिल की गई है। कोर्ट ने याची के पुलिस उत्पीड़न पर रोक लगा दी है।


याची का कहना है कि पुलिस दरोगा सुनील कुमार ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। इस मामले में शाहजहांपुर के महिला थाने में 14 जनवरी 21 को एफआईआर दर्ज है। एक एफआईआर थाना दातागंज बदायूं में व एक एफआईआर जलालाबाद शाहजहांपुर में दर्ज है। दरोगा ने पेशबंदी में एफआईआर दर्ज कराई है। पीड़िता ने मुख्यमंत्री सहित सभी पुलिस अधिकारियों से शिकायत की किंतु कोई सुनवाई नहीं हुई। दरोगा उसे परेशान कर रहा है। पुलिस के खिलाफ शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर कोर्ट ने डीजीपी से जवाब मांगा है। संवाद

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.