लम्बे अरसे के बाद खुलेगा कॉलेज छात्राओं में खुशी , साफ-सफाई शुरू

मधुबनी : में राज्य सरकार द्वारा 12 जुलाई से महाविद्यालयों के खोले जाने पर छात्रों में काफी खुशी का माहौल है। लॉक डाउन की स्थिति में छात्र ऑनलाइन घर बैठे क्लास कर रहे थे । जिला के सभी महाविद्यालयों के प्रधानाचार्य एवं शिक्षकों ने 12 जुलाई से सरकार द्वारा महाविद्यालयों को खोलने के निर्णय का स्वागत किया।शहर के रामकृष्ण महाविद्यालय ,जगदीश नंदन महाविद्यालय, जेएमडीपीएल महिला महाविद्यालय, देव नारायण यादव महाविद्यालय, मिल्लत शिक्षक-प्रशिक्षण महाविद्यालयों में मंगलवार से महाविद्यालय परिसर एवं वर्ग कक्ष की साफ सफाई प्रारंभ कर दी गई।

आर कालेज के प्रधानाचार्य डॉ अनिल कुमार मंडल ने कहा कि लॉकडाउन के भी समय में आरके कॉलेज में प्रतिदिन कालेज परिसर एवं वर्ग कक्ष की साफ सफाई होती है। सभी महाविद्यालयों में परिसर वर्ग कक्ष ,फर्नीचर ,उपकरण, स्टेशनरी ,भंडार कक्ष, पानी टंकी, किचन ,वॉशरूम ,प्रयोगशाला, लाइब्रेरी की साफ सफाई प्रारंभ कर दी गई है। उन्होंने कहा कि महाविद्यालयों में सैनिटाइजर से सभी वर्ग कक्षा सहित पूरे परिसर के भवनों को सैनिटाइज किया जा रहा है। डीएनवाई कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ चंद्रशेखर प्रसाद ने कहा कि महाविद्यालय में साबुन एवं सैनिटाइजर की पर्याप्त व्यवस्था कर ली गई है। जेएमडीपीएल की प्रधानाचार्य डॉक्टर अर्चना कुमारी ने कहा कि महाविद्यालय में वर्ग का संचालन सामाजिक एवं शारीरिक दूरी को ध्यान में रखकर किया जाएगा। ऑफलाइन वर्ग पक्ष के संचालन में छात्राओं के बीच 6 फीट की दूरी रखी जाएगी।

जगदीश नंदन महाविद्यालय के बर्सर सह राजनीति शास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. अनिल कुमार चौधरी ने कहा कि इस महाविद्यालय में थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है। महाविद्यालय खुलने के बाद छात्रों को थर्मल स्क्रीन कराने के बाद ही वर्ग कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा । आर के कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. मंडल ने कहा कि महाविद्यालय में कोविड-19 के लिए उत्तरदायी टीम का भी गठन किया गया है। जिसमें एनसीसी एवं एनएसएस के छात्रों के साथ प्राध्यापक डॉ राहुल मनहर एवं प्राध्यापक डॉ अशोक कुमार शामिल हैं। महाविद्यालय के प्रधानाचार्य ने कहा कि सभी छात्र छात्राएं बगैर मास्क के महाविद्यालय में प्रवेश नहीं कर सकते हैं। सभी महाविद्यालयों के परिसरों की भी सफाई की जा रही है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.