मधवापुर के व्यवसायी सिराजुल के घर हुए डाकाकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश

सीतामढ़ी जिला के सुरसंड के नौ डकैतों ने दिया था बारदात को अंजाम

डाकाकांड में संलिप्त नौ अपराधी में सात चढ़ा पुलिस के हत्थे

पुलिस पुछ ताछ में सिराजुल के घर डाकाकांड का किया पर्दाफाश

मधवापुर पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले सीतामढ़ी जेल में बंद दो अपराधियों को लिया रिमांड पर

अपराधियों ने पुलिस पुछ ताछ में डकैती में लूटी गई जेवरात खरीदने वाले व्यवसायी के नाम का किया खुलासा

मधवापुर : बाजार के भगवती स्थान मुहल्ला निवासी मो सिराजुल के घर पिछले19 अप्रैल की रात हुए डाकाकांड का आखिरकार पुलिस ने ढाई माह बाद पर्दाफाश कर दिया है। बेनीपट्टी एसडीपीओ अरूण कुमार सिंह ने शुक्रवार को मधवापुर थाना पर प्रेस वार्ता कर इसकी जानकारी दी है।

उन्होंने बताया कि पिछले 19 अप्रैल को मधवापुर बाजार के भगवती स्थान मुहल्ला निवासी मो सिराजुल के घर हुए डाकाकांड का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। पुलिस घटना का पर्दाफाश कर बड़ी कामयाबी हासिल की है।

घटना के दस घंटे बाद मधुबनी एसपी डाॅ सत्यप्रकाश ने वेनीपट्टी इंस्पेक्टर राजेश कुमार के नेतृत्व में मधवापुर थानाध्यक्ष गया सिंह, साहरघाट थानाध्यक्ष सुरेन्द्र पासवान एवं खिरहर थानाध्यक्ष अंजय कुमार के साथ एसआईटी टीम का गठन किया गया था।

एसआईटी टीम ने मोबाइल ट्रेस के माध्यम से डाकाकांड के मुख्य डकैत शिवू सहनी का मोबाइल नंबर के आधार पर सीतामढ़ी जिला के सुरसंड थाना की गई पुछ ताछ में जानकारी मिली कि सुरसंड थाना क्षेत्र में एक चोरी की घटना में शिवू सहनी समेत सात अपराधी सीतामढ़ी जेल में बंद है। मधवापुर पुलिस ने सीतामढ़ी जेल पहुंचकर घटना के मुख्य अपराधी शिवू सहनी व मो समीम से पुछ ताछ के बाद चार दिन के रिमांड पर लेकर मधवापुर थाना लाकर गहन पुछ ताछ के दौरान दोनों अपराधियों ने अपने संलिप्त स्वीकार करते हुए मामले का खुलासा किया।

घटना में कुल नौ अपराधी शामिल थे। जिसमें सात अपराधी सीतामढ़ी जेल में बंद है। और दो अपराधी बेल पर है। सभी अपराधी सीतामढ़ी जिला के सुरसंड का रहने वाला है। ये सभी अपराधी अबतक भारत दस डकैती, चोरी और परोसी राष्ट्र नेपाल में भी 13 चोरी, डकैती की घटना को अंजाम दिया है।

उन्होंने बताया कि घटना में शिवू सहनी, मो समीम अंसारी उर्फ छोटे, रवि राउत, मो रजाउल उर्फ चांद बाबू, राकेश पंजियार, कर्ण कुमार, प्रमोद राउत, मो तौकीर और सुबोध राउत शामिल थे। अपराधियों ने बताया कि लूटा गया जेवरात सीतामढ़ी शहर के स्वर्ण व्यवसायी पवन कुमार उर्फ बंबईया के हाथों बेचा है। एसडीपीओ अरूण कुमार सिंह ने बताया कि रिमांड पर लिए गए दोनों अपराधियों को पुलिस  न्यायिक अभिरक्षा भेज रही है तथा ज़मानत पर रिहा दो अपराधियों व जेवरात खरीदने वाले स्वर्ण व्यवसायी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी शुरू कर दी गई है।

ADVERTISEMENT

बताते चलें कि पिछले 19 अप्रैल की रात मधवापुर बाजार के भगवती स्थान मुहल्ला निवासी मो सिराजुल के घर अपराधियों ने बम विस्फोट कर भीषण डकैती की घटना को अंजाम दिया था। इस घटना में गृहस्वामी मो सिराजुल के दो पुत्र व उनकी पत्नी गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। तथा करीब 18 लाख़ नगद समेत आभूषण लूट लिया था। ढाई माह बाद पुलिस ने डाकाकांड का पर्दाफाश किया है।

थाने पर प्रेस वार्ता में एसडीपीओ अरूण कुमार सिंह, इंस्पेक्टर राजेश कुमार, थानाध्यक्ष गया सिंह, खिरहर थानाध्यक्ष अंजय कुमार, एसआई उग्रसेन पासवान, एसआई रामनरेश प्रसाद, एएसआई विलट पासवान, एएसआई लालबाबू पासवान सहित पुलिस बल के जवान व चौकीदार मौजूद थे।
 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.